Breaking News देश राज्य होम

एसवीएसयू के विद्यार्थी गाँव-गाँव जाकर कर रहे कोरोना महामारी के प्रति जागरूक

एसवीएसयू के विद्यार्थी गाँव-गाँव जाकर कर रहे कोरोना महामारी के प्रति जागरूक

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

 

गुरूग्राम । भारत के पहले  सरकारी  कौशल विश्वविद्यालय, श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के विद्यार्थी लोगों को सुरक्षित करने के उददेश्य से सुरक्षा कवच  अभियान  के तहत  गाँव-गाँव जाकर ग्रामीणों को कोरोना महामारी से बचाव के उपाय बताकर जागरूक करने का काम कर रहे हैं एवं सुरक्षा हेतू मास्क वितरण  कर रहे हैं। विश्वविद्यालय के बीवाॅक आॅटोमोटिव मैन्युफैक्चरिंग के छात्र अमन श्रोती गांव वालों को इस महामारी से जागरूक करने के लिये अनुठा तरीका अपनाया हुआ है, छात्र ने साथ में एक माइक लिया हुआ है एवं कोरोना से बचाव के लिये गांव-गांव जाकर जागरूकता अभियान चलाया हुआ है। वह सिकन्दरा राऊ क्षेत्र में जाकर ग्रामीणों को मास्क वितरण के साथ ही शारीरिक  दूरी का पालन  करते हुए ग्रामीणों के साथ बैठक करके उन्हें जागरूक कर रहा है। छात्र ने बताया कि इस कार्य के प्ररेणा के स्त्रोत विश्वविद्यालय के कुलपति श्री राज नेहरू हैं जो स्वयं रात-दिन इस कोरोना रूपी जंग को हराने के लिये कार्य कर रहे हैं। छान ने बताया कि वह जगह-जगह जाकर बैठकें कर रहे हैं, इसके लिए श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के डिप्टी रजिस्ट्रार डाॅत्र ललित कुमार शर्मा का बहुत सहयोग मिल रहा है। वह हर प्रकार की मदद कर रहे हैं, जिससे उसे बहुत ज्यादा माॅटिवेशन मिलता है। छात्र ने क्षेत्र के ग्राम जरेरा, भैकुरी, नगला बीरसहाय गांव में मास्क का वितरण किया तथा लोगों को अपने घरों पर सुरक्षा कवच बनाने की भी जानकारी दी।
इस अभियान के लिए आदर्श वाक्य बनाया हुआ है, जिसमें ‘‘एक सुरक्षा कवच, एक जीवन बचाओं’’ एवं ‘‘एक सिलाई मशीन, एक स्वयंसेवक, कपड़े का एक टुकड़ा और एक मीटर की दूरी पर एक साथ कॉविड़-19 पर विजय प्राप्त करेगा’’ ग्राम पंचायतों ने विश्वविद्यालय के अधिकारी और छात्र की पहल की सराहना की और स्वयं सहायता समूहों की मदद से अपने स्वयं के गांवों में हैंड मेड़ मास्क बनाने और वितरण का काम भी शुरू किया है। जरैरा के ग्राम प्रधान श्री सुशील कुमार, भेंकुरी के ग्राम प्रधान श्री राकेश कुमार, विनोद कुमार शर्मा,  मुरारी  लाल  शर्मा, रामेश्वर  काका, बीरेन्द्र मुखिया जी, राजू, बीरेश शर्मा ने भी इस अभियान का समर्थन किया है। श्री अभिषेक श्रोती, श्री हरिओम शर्मा, श्री भोला, श्री प्रेम शंकर, श्री डिप्टी सिंह आदि अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।