Breaking News देश राज्य होम

ऊर्जा समिति 14 दिसम्बर को ‘राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस’ मनाएगी

ऊर्जा समिति 14 दिसम्बर को ‘राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस’ मनाएगी

रिपोर्टर योगेश गुरूग्राम India Now24

गुरुग्राम:ऊर्जा समिति द्वारा 14 दिसम्बर को ‘राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस’ मनाया जायेगा। इस दिवस की मान्यता के अनुसार लोगो को ऊर्जा संरक्षण के लिए जागृत किया जायेगा। ‘गीता जयंती महोत्सव’ के अवसर पर भी लोगों को बिजली बचत की जानकारी दी गई। इस अवसर पर विद्यालयों के बच्चों को ऊर्जा संरक्षण अपनाने एवं अपनी आदत में शामिल करने के लिए प्रेरित किया गया और महोत्सव के दौरान सभी आगंतुकों को जागरूक किया गया।

समिति के महासचिव संजय कुमार चुघ ने बताया कि ऊर्जा संरक्षण एवं बचत पर आधारित इस ‘राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस’ की शुरुआत विभिन्न सार्वजनिक स्थलों, घरेलु, व्यवसायिक, वाणिज्यिक और परिवहन क्षेत्रों से की जाएगी। इसमें बिजली, पानी, तेल, गैस, पैट्रोल व डीजल को सुरक्षित करने तथा पर्यावरण के अनुकूल सौर ऊर्जा को अपनाने की प्रेरणा देकर जागृत किया जायेगा। इस जागरूकता के तहत विभिन्न घरेलू क्षेत्रों व सैक्टरों के लोगों को बिजली की बचत के सुझाव बताए जायेंगे तथा अनेक संसाधनों के आधार पर बिजली की प्रति यूनिट की खपत के आकड़ों की प्रचार सामग्री दी जाएगी।

तेल व गैस की बचत के तरीकों की प्रचार सामग्री घरेलू गैस उपभोक्ताओं में वितरित की जाएगी। टू व्हीलर बाइक व स्कूटर में पैट्रोल, थ्री व्हीलर ऑटो में डीजल व नेचुरल गैस, फोर व्हीलर, कार आदि में पैट्रोल व डीजल, व्यवसायिक चालकों को डीजल की बचत के साथ ट्रैफिक नियमों की जानकारी दी जाएगी। बिजली, पानी, तेल, गैस, पैट्रोल व डीजल के संरक्षण की मुद्रित विस्तृत प्रचार सामग्री जन-जन तक पहुंचाकर लोगों में ऊर्जा सरक्षण हेतू जागरूकता पैदा करना ही इस ‘राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस’ का उद्देश्य है। सौर ऊर्जा को अपनाकर भी इस ऊर्जा का संरक्षण होगा और प्रदूषण पर भी नियन्त्रण हो सकेगा।

हमारी सरकार भी चार से पांच करोड़ रूपये प्रति मैगावाट विद्युत हमारे घर तक पहुंचाने में खर्च करती है और प्रत्येक वर्ष हजारों करोड़ रूपए विदेशी मुद्रा में पैट्रोलियम उत्पादों को आयात करने में खर्च करती है। सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए भी सरकार हजारों करोड़ रूपए खर्च कर रही है। सरकार द्वारा उजाला योजना के तहत एलईडी और ऊर्जा की कम खपत करने वाले उपकरण भी सस्ती दर पर दिए जा रहे हैं। आप और हम सब मिल कर अपने वाहनों में ईधन एंव घरों में ऊर्जा बचाने के उपयोग को अपनाकर विदेशी मुद्रा के खर्च को कम करने में सहायता कर सकते हैं। ऊर्जा समिति सभी से ऊर्जा संरक्षण एवं बचत की अपील करती है। समिति के महासचिव ने बताया कि इसमें बहुत से स्वयं सेवक शामिल होंगे और ऊर्जा संरक्षण की प्रेरणा देंगे। आज प्रत्येक व्यक्ति ऊर्जा पर आधारित वस्तुओं का इस्तेमाल कर रहा है, प्रत्येक को इस ऊर्जा का संरक्षण करना जीवन जीने के लिए आवश्यक है एवं जिन्दगी के साथ-साथ ही इनकी बचत की जानी चाहिए। सभी मिलकर ऊर्जा का संरक्षण करके पर्यावरण संतुलन में योगदान दें।