Breaking News देश राजनीती राज्य होम

अयोध्या। व्यापार अधिकार मंच के तत्वाधान में हुई संवाद बैठक

व्यापार अधिकार मंच के तत्वाधान में हुई संवाद बैठक

अयोध्या। राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर एवं नागरिकता संसोधन एक्ट पर देश में छेड़ी गयी सुनियोजित उपद्रव की साजिश को अयोध्या की धरती से सभी धर्म वर्ग के लोगो ने तगड़ा आईना दिखाया है। सिख, जैन, मुस्लिम, इसाई, सिंधी समाज, गायत्री परिवार, रोटरी क्लब, लायन्स क्लब के प्रतिनिधियों के साथ संवाद बैठक का आयोजन व्यापार अधिकार मंच के तत्वाधान में किया गया। जिसमें आशंकाओं व उसके समाधान पर चर्चा की गयी। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद लल्लू सिंह, अध्यक्षता व्यापार अधिकार मंच के राष्ट्रीय संयोजक सुशील जायसवाल व संचालन राष्ट्रीय महामंत्री विश्व प्रकाश रुपन ने किया।
सासंद लल्लू सिंह ने कहा कि सरकार सबका साथ सबका विकास के साथ सबका विश्वास हासिल करने के सिद्धान्त पर काम कर रही है। सरकारी योजनाओं का लाभ प्रत्येक पात्र व्यक्ति को बिना किसी भेदभाव के प्रदान किया गया है। नागरिकता संसोधन एक्ट से किसी का भी नुकसान नहीं है। सभी को एक दूसरे के धर्मो का सम्मान करना चाहिए। उन्होने इस प्रकार की पहल के लिए व्यापार अधिकार मंच व यहां के प्रबुद्ध नागरिकों का आभार व्यक्त किया। उन्होने कहा कि प्रदर्शन करने वाले यदि केन्द्र सरकार तक अपनी बात पहुंचाना चाहते है तो सरकार सम्पत्ति को क्षति व आग लगाने की बजाए हमें लिखित पत्र दें। हम अवश्य गृहमंत्री से इसको लेकर वार्ता करेंगे। साथ ही सवाल किया कि कौन लोग है जो एक धर्म विशेष को बरगला कर रोड पर उतार रहे है। पर उनका नेतृत्व किसी राजनैतिक दल का अन्य धर्म का नेता कर रहा है। व्यापार अधिकार मंच के राष्ट्रीय संयोजक व भाजपा नेता सुशील जायसवाल ने कहा कि केन्द्र सरकार की योजनाओं को कांग्रेस अपने कार्यकाल का बताकर उसका श्रेय लेना चाहती है। परन्तु एनआरसी व सीएए पर श्रेय लेने से क्यों बचना चाहती है। इसकी नींव स्वयं गांधी व नेहरु ने रखी थी। देश को अस्थिर करने के मंसूबे को आज सभी वर्ग के लोग एक साथ एकत्र होकर जवाब दे रहे है। सरदार सुरेन्द्र सिंह राने ने भ्रम फैलाने वालों को चिन्हित करके जहां कारवाई की बात कही वहीं पड़ोसी तीन देशों के अल्पसंख्यकों को भारत में खुले दिल से स्वीकार करने की बात कही। सिंधी समाज घोटकी पंचायत मुखिया भीमन दास ने तीन मुस्लिम देशों के अल्पसंख्यक वर्ग के प्रताड़ित हिंदू, जैन, सिख, बौद्ध, पारसी व इसाई को भारत में नागरिकता देने भारत सरकार के फैसले का स्वागत किया।
मुस्लिम समाज से युसुफ अफजाल व सैयद परवेज ने अपनी आशंकाओं को विस्तार से बताया। सांसद लल्लू सिंह ने सभी वर्ग के लोगो की बातों को विस्तार से सुनने के बाद उनकी आशंकाओं का निवारण किया। इस अवसर पर अचल गुप्ता, बैजनाथ वैश्य, अजय धवन, अरुण गुप्ता, गोपाल रस्तोगी, मयूरेश चतुर्वेदी, राजेश शर्मा, ध्रुव गुप्ता, सतीश गुप्ता, राजेश सिंह, सुरेश मोदनवाल सहित सैकड़ो प्रबुद्ध वर्ग के लोग मौजूद रहे। मुख्य अतिथि सांसद लल्लू सिंह के आगमन पर व्यापार अधिकार मंच की तरफ से बुके देकर स्वागत किया गया। स्वागत करने वालों में रमेश जायसवाल, कमल कौशल, आचार्य रमेश पांडेय,विश्व प्रकाश रुपन, राजेश जायसवाल, अरुण गुप्ता, सैय्यद परवेज हसन राजू मदान, दयाल यादव, मनोज अग्रवाल, रत्नाकर मिश्रा, बिजेन्द्र मौर्या, रितेश तोलानी, रितेश शर्मा, अमित गुप्ता, तेज कुमार माखेजा, लक्ष्मण माखेजा, राजकुमार मोटवानी, बजरंगी वर्मा, दशरथ कौशल, अर्जुन गुप्ता, अरविंदगुप्ता मौजूद रहे।
अनिल निषाद